Vastu Tips for Health in Hindi [Complete Health Guide]

Vastu Tips for Health in Hindi में हम आज वास्तुशास्त्र द्वारा बताये स्वास्थ्य सम्बंधित नियमों के बारे में जानेंगे जिसकी सहायता से हम अपने घर में सेहतमंद रह सकते हैं। यदि घर में कुछ Vastu Tips for Health का ध्यान रखा जाए तो हम अपने स्वास्थ्य को अच्छा रख सकते हैं। 

वास्तुशास्त्र के अनुसार बहुत से कारण होते है जिनसे हमारी सेहत पर बुरा प्रभाव पड़ता है जैसे की ईशान कोण में टॉयलेट का होना इत्यादि। 

घर की विभिन्न जगहों का हमारे स्वास्थ्य पर असर पड़ता है इस लिए जरुरी है की हम उन मुख्य बिंदुओं को जाने और अपने जीवन में उनका उपयोग करें जो हमे स्वस्थ रहने में मदद करें। 

Vastu for Health (स्वास्थ्य वास्तु ):

Vastu-Tips-for-Health-in-Hindi


वास्तु फॉर हेल्थ में हम घर के उन स्थानों व चीजों के बारे में जानेंगे जिनसे हमारे स्वास्थ्य पर सीधा प्रभाव पड़ता है और उन चीजों को सही करने से यह समस्या समाप्त हो जाती हैं। 

1. ईशान कोण में टॉयलेट:

किसी भी घर में यदि ईशान कोण में टॉयलेट का निर्माण किया गया हो तो वह घर में निवास करने वाले लोगो के स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव डालता हैं , ऐसा होने पर घर के सभी लोग गंभीर बीमारियों से ग्रसित रहते हैं। 

इसके लिए जरुरी है की टॉयलेट दोष का उपाय करें तथा इसको वास्तु अनुसार बनाए। इसके सम्बन्ध में हमने विस्तार से लेख लिखा है इसको पढ़कर आप टॉयलेट दोष का उपाय कर सकते हैं। 


2. ईशान कोण में सीढ़ियां:

घर के ईशान कोण में सीढ़ियों का निर्माण घर के मुखियाँ को बीमारी देता है अतः घर में कभी भी सीढ़ियों का निर्माण नार्थ-ईस्ट दिशा में न कराए , और यदि पहले से ही इस दिशा में सीढ़ियां बनी हो तो उनका उपाय कराए। 

सम्बंधित लेख: वास्तु फॉर स्टैर्स।

3. साउथ -ईस्ट दिशा में टॉयलेट:

यदि किसी घर की महिलाएं हमेशा बिमारियों से ग्रसित रहे तो इसका एक कारण साउथ -ईस्ट दिशा में बना टॉयलेट होता है और फायर जोन में बना टॉयलेट केवल महिलओं के स्वास्थ्य को खराब करता हैं। 

ऐसा होने पर टॉयलेट के अंदर हरे रंग का इस्तेमाल करें तथा टॉयलेट के अंदर टॉयलेट प्रोटेक्टर लगाए इससे टॉयलेट दोष समाप्त हो जाता हैं। 

4. ईशान कोण में किचन:

यदि घर के ईशान कोण में किचन बनाया गया हो तो यह भी महिलओं के खराब स्वास्थ्य के लिए जिम्मेदार होता है क्योकि ईशान कोण को वाटर जोन बताया गया है यदि यह अग्नि सम्बंधित कार्य जैसे किचन आदि का कार्य करना वास्तु दोष उतपन्न करता है जोकि महिलओं के स्वास्थ्य को खराब करता हैं। 

इसके उपाय के लिए किचन के अंदर लाल रंग का इस्तेमाल करें तथा किचन के अंदर पिरामिड रखें। 

संबंधित लेख: वास्तु फॉर किचन। 

उपरोक्त बिंदुओं में हमने घर के वास्तु दोष के कारण स्वास्थ्य सम्बन्धी कारणों के बारे में जाना, आगे हम Vastu Tips for Health के बारे में जानेंगे। 

Vastu Tips for Health in Hindi:

  1. घर के साउथ दिशा में कभी भी सीवर का निर्माण नहीं करना चाहिए इससे घर में रहने वाले सभी लोगो पर बुरा असर पड़ता हैं। 
  2. सीढ़ियों के नीचे कभी भी टॉयलेट का निर्माण नहीं करना चाहिए क्योकि यह घर के पुरुषों का स्वास्थ्य खराब करता हैं। 
  3. यदि टॉयलेट के अंदर घड़ी लगी हो तो यह भी एक वास्तु दोष होता हैं इसलिए टॉयलेट में घड़ी नहीं लगानी चाहिए। 
  4. मास्टर बैडरूम को कभी भी ईशान कोण या साउथ -ईस्ट में नहीं बनाना चाहिए। 
  5. मंदिर को टॉयलेट के सामने या साथ में नहीं बनाना चाहिए इससे घर की महिलाओं का स्वास्थ्य खराब होता हैं। 
  6. बैडरूम के अंदर टॉयलेट के दरवाजे के सामने बेड नहीं डालना चाहिए। 
  7. टॉयलेट के सामने मंदिर नहीं होना चाहिए। 
  8. कभी भी बैडरूम के अंदर दवाइयां खुली नहीं रखनी चाहिए ऐसा करने से बीमारियां आकर्षित करती हैं। 
  9. ब्रह्मस्थान में किसी भी प्रकार का निर्माण नहीं होना चाहिए। 
  10. किचन के अंदर घड़ी या फॅमिली फोटो नहीं लगानी चाहिए। 
  11. घर के साउथ -ईस्ट में पानी से सम्बंधित चीजे जैसे बोरवेल इत्यादि नहीं होना चाहिए। 

निष्कर्ष:


उपरोक्त लेख में हमने Vastu for Health और Vastu Tips for Health in Hindi के बारे में विस्तार से सभी वास्तु बिन्दुओ के बारे में जाना। इनकी सहायता से हम घर में होने वाले वास्तु दोषों का ध्यान रख सकते है जो हमारी Health पर बुरा प्रभाव डालते हैं। 

लेख में अभी तक बने रहने के लिए आपका धन्यवाद।यदि आपका कोई प्रश्न हो तो हमे कमेंट करें तथा इस लेख को शेयर करें। 

ये भी पढ़ें:

No comments:

Post a Comment

Please do not enter any Spam link in the comment box.

INSTAGRAM FEED

@soratemplates