Wind Chimes Vastu | Know the Benefits of Wind Chimes at Home

 आज के इस लेख में हम Wind Chimes, Wind Chimes Vastu , Wind Chimes Vastu Tips , Wind Chimes for Home, Wind Chimes Benefits तथा Wind Chime Vastu direction के बारे में जानेंगे। 

Wind-Chimes-Vastu


आप सभी ने अपने किसी दोस्त या रिश्तेदार के घर में एक चीज लगी देखी होगी जोकि बहुत ही अच्छी आवाज करती है जिसको हम Wind Chime के नाम से जानते हैं। इसकी आवाज हमारे कानों को बहुत ही अच्छी लगती है, और यह वास्तु के अनुसार घर में लगाने के कई फायदे भी है तो आईये Wind Chimes, Wind Chimes Vastu तथा Wind Chimes Vastu Tips के बारे में विस्तार से समझते हैं। 

Wind Chimes:

Wind-Chimes


Wind Chimes एक ऐसा तालवादक यंत्र होता है जोकि धातु की हल्की छडो इत्यादि को मिलाकर बनाया जाता है। यह इस प्रकार से बना होता है की जब इससे हवा टकराती है तो यह बहुत ही मधुर ध्वनि उतपन्न करता हैं। 

साथ ही Wind Chimes कई प्रकार के होते है तथा यह विभिन्न धातुओं से बनाये जाते है परन्तु सबसे महत्वपूर्ण होता है इनको सही प्रकार से लगाना। और इसलिए आता है वास्तुशास्त्र। जोकि हमे इसको सही प्रकार से लगाने के सम्बन्ध में समझाता हैं। 

आमतौर पर यह किसी इमारत के बाहर या घरों में लगाई जाती है इसका कारण घर में इसकी मधुर आवाज से होता हैं। 



Wind Chimes Vastu (in Hindi):

Wind Chimes Vastu में हम wind chimes के सम्बन्ध में वास्तु नियमों के बारे में जानेंगे। जिसमे हम इसकी सही जगह , वास्तु डायरेक्शन इत्यादि के बारे में जानेंगे। 

वास्तुशास्त्र के अनुसार Wind Chimes घर के बाहर Main Door या Balcony में लगानी चाहिए ,परन्तु इसको घर के मंदिर या पूजा रूम में भी लगाया जा सकता हैं। 


 Wind Chimes Vastu Direction:

Wind-Chime-Vastu-Direction


वास्तु अनुसार wind chimes को घर के नार्थ दिशा में लगाना सबसे ज्यादा लाभकारी होता है, इसको घर के ईशान कोण में लगाने से घर में बरकत हमेशा बनी रहती हैं। 

परन्तु इसकी दिशा इसके आकार व इसकी धातु पर भी निर्भर करती हैं , इसलिए जरुरी है की हम विभिन्न प्रकार की wind chimes के बारे में आपको बताए। 


1. Bamboo wind chimes:

घरों में Bamboo wind Chimes लगाना बहुत ही लाभकारी होता है , यह विंड चाइम बम्बू की बनी होती है इस लिए इसे बम्बू विंड चाइम बोला जाता है। 

मंदिर या पूजा रूम के अंदर bamboo wind chimes लगाना सबसे ज्यादा अच्छा होता हैं। 


2. Wooden Wind Chimes:

विभिन्न प्रकार की लकड़ी से बनी विंड चाइम को Wooden wind chime  से जाना जाता है परन्तु इसमें ऐसी लकड़ी का इस्तेमाल किया जाता है जोकि अंदर से खोखली होती हैं। 

Wooden Wind Chime को घर के East दिशा  जाता है यह घर में opportunity आकर्षित करने के काम आती हैं।इसको बच्चो के रूम या Study Room में लगाना बहुत  होता हैं। इससे बच्चो का मन पढ़ाई में लगता हैं। 

3. Metal Wind Chimes:

यदि विंड चाइम मेटल से बनी हो तो उसे Metal Wind Chime बोला जाता है यह विंड चाइम अलग प्रकार की धातु से बनाई जाती है  जोकि हवा से टकराने पर बहुत ही मधुर आवाज निकालती हैं। 

Vastu के अनुसार Metal Wind Chimes को घर के नार्थ या ईस्ट में लगाना चाहिए, इस लिए इनको बालकनी  में लगाना सबसे ज्यादा लाभदायक रहता हैं। इससे घर में हमेशा अच्छा माहौल बना रहता हैं। 


4. Glass Wind Chimes:

Glass से बनी विंड चाइम को Glass Wind Chime के नाम से जाना जाता है यह बहुत ही लाभदायक तथा आवाज  मधुर होती है क्योकि इसमें विशेष प्रकार का कांच इस्तेमाल होता हैं। 

इसको घर में किसी भी दिशा में लगाया जा सकता है , इसको आप ऑफिस में भी लगा सकते हैं। यह ऑफिस में ग्राहक उन्नति बढ़ाने के काम  आती हैं। 

5. Ceramic Wind Chimes:

Ceramic पत्थर से बनी विंड चाइम को ceramic wind chime बोला जाता है इसको घर के साउथ में लगाया जाता है। परन्तु ध्यान रखे यह घर के बाहर ही लगाई जाती है इसको किसी कमरे इत्यादि में नहीं लगाया जाता हैं। 


अपने जाना की विंड चाइम कई प्रकार की होती है और उनका महत्व भी उनके प्रकार पर निर्भर करता है। आप सभी यह भी समझ गए होंगे की कोनसी विंड चाइम किस जगह लगानी चाहिए। तो आईये अब हम Wind Chimes Benefit के बारे में जानते हैं। 


Wind Chimes Benefits:

Wind Chimes at Home में हम विंड चाइम घर में लगाने के फायेदे जानेगे , जैसा की आपने पढ़ा की विंड चाइम के प्रकार पर उसकी दिशा व जगह निर्भर करती हैं। 


  1. घर में विंड चाइम लगाने से एक प्रकार की ऊर्जा उतपन्न होती है जोकि पुरे घर को चलायमान रखती हैं। 
  2. यदि घर के बाहर विंड चाइम लगाई जाए तो वह घर में शुभ समाचार को आकर्षित करती हैं। 
  3. यदि कपल के बैडरूम में विंड चाइम लगाई जाये तो यह उनके बीच प्यार को बढाती हैं। 
  4. कमरे में यदि विंड चाइम लगाई हो तो यह ध्यान रखें की कमरे के आकार के अनुसार ही इसे लगाए। 
  5. यदि मंदिर में विंड चाइम लगाए तो यह धर्म कर्म को बढ़ावा देती हैं। 
  6. धातु से बनी विंड चाइम घर के लिए सबसे अच्छी होती हैं। 
  7. यदि आपके घर में लड़ाई झगडे ज्यादा हो रहे हो तो घर के ईस्ट दिशा में विंड चाइम लगाने से शांति बढ़ती हैं। 
  8. घर के ब्रह्मस्थान में विंड चाइम लगाने से पूरा घर ऊर्जा से भर जाता हैं। 
  9. यदि बेटी की शादी में देरी हो तो glass wind chime को कमरे में लगाने से शादी समय पर हो जाती हैं। 
  10. धन की समस्या को खत्म करने के लिए ईशान कोण में विंड चाइम लगाए। 

 Wind Chimes Vastu tips:


  1. हमेशा ध्यान रखें Master Bedroom में कभी भी wind chime न लगाए , ऐसा करने से दाम्पत्य जीवन खराब होता हैं। 
  2. किसी भी अवस्था में विंड चाइम को Toilet या Bathroom में नहीं लगाना चाहिए। 
  3. Kitchen में या किचन के बाहर विंड चाइम नहीं लगानी चाहिए। 
  4. विंड चाइम घर में लगाते समय ध्यान रखें की यह नई खरीदी हो, क्योकि पुरानी विंड चाइम घर में लगाना अशुभ होता हैं। 
  5. कभी भी टूटी हुई विंड चाइम को घर में नहीं लगाना चाहिए , ऐसा करने से घर में क्लेश बढ़ता हैं। 
  6. कभी भी शादी शुदा जोड़े के कमरे में विंड चाइम नहीं लगाना चाहिए। 
  7. साउथ -वेस्ट दिशा में विंड चाइम लगाने से घर की स्थिरता भंग होती हैं। 
  8. यदि कॉपर धातु से बनी विंड चाइम को घर की नार्थ बालकनी में लगाया जाये तो वह बहुत ही शुभ होती हैं। 
  9. बच्चों  के कमरे में ईस्ट दिशा में विंड चाइम लगाना अच्छा होता हैं। 
  10. घर की वेस्ट दिशा में विंड चाइम लगाने से घर में शांति आती हैं। 

निष्कर्ष:

उपरोक्त लेख में हमने Wind Chime Vastu , wind Chime Vastu Tips के बारे में विस्तार से जाना , जिसकी सहायता से हम विंड चाइम सम्बन्धी सभी नियमों के बारे में समझ पाये। 

उपरोक्त लेख में दी गयी जानकारी Vastu Expert Robin Goswami द्वारा बतायी गयी है , यदि आपको जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें। यदि आपका कोई प्रश्न हो तो कमेंट में हमसे जरूर पूछे। हम आपके सवालों का जवाब जरूर देंगे। 

आपके कीमती समय के लिए सादर प्रणाम। 

सम्बंधित लेख:

No comments:

Post a Comment

Please do not enter any Spam link in the comment box.

INSTAGRAM FEED

@soratemplates